Bhagwan Shiv Ke 12 Jyotirling

द्वादशज्योतिर्लिंग: भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग स्थल और कथा

Bhagwan Shiv Ke 12 Jyotirling पृथ्वी के जिन स्थानों पर भगवान शिव स्वयं प्रकट हुएं इन स्थलों को ज्योतिर्लिंग कहां जाता हैं। भारत में भगवान शिव के द्वादश ज्योतिर्लिंग यानी

पढ़िए
कुंडलिनी जागरण की अवस्था क्या हैं? | जागरण के फायदें और नुकसान

कुंडलिनी शक्ति जागरण के नुकसान

कुंडलिनी योग गैरमामुली हैं । यह जीवन शक्ति, ऊर्जा, तेज से भरपूर हैं। अगर किसी साधक की एक बार कुंडलिनी शक्ति जागृत हो जाती हैं, तो अगले ही दिन में

पढ़िए
कुंडलिनी जागरण की अवस्था क्या हैं? | जागरण के फायदें और नुकसान

कुंडलिनी योग क्या हैं? || कुंडलिनी योग के लाभ

कुंडलिनी क्या हैं? कुंडलिनी योग हर किसी को दिलचस्प लगता हैं । इसका कारण वह सांप हैं ।  कहां जाता हैं की यह सांप मूलाधार चक्र से निकल कर स्वादिष्ठान

पढ़िए
कुंडलिनी जागरण की अवस्था क्या हैं? | जागरण के फायदें और नुकसान

कुंडलिनी जागरण की अवस्था क्या हैं? | उदाहरणों सहित जानिए

कुंडलिनी शक्ति जागरण अगर आप एक सामान्य मनुष्य जीव की तरह जीवन व्यतीत कर रहें हैं तो यह कहने में कोई संदेह नहीं की आप अंधकार में जीवन व्यतीत कर

पढ़िए
माया क्या हैं? || दुनिया झूट हैं या मन?

माया क्या हैं? || दुनिया झूट हैं या मन?

हमारे धार्मिक ग्रंथों में ज्ञान की विस्तारित बातें लिखी हुई हैं। इनसे मनुष्य जीव आत्म के कल्याण के पथ को चुनने में जागरूक होता हैं । मोक्ष प्राप्त करना जीवात्मा

पढ़िए

जीवात्मा किसे कहेंगे? और परमात्मा किसे कहेंगे?

ध्यान में गहरा उतरने से आत्मा का बोध होता हैं जिसे आत्मज्ञान केहेतें हैं । लेकिन आत्मा को इंद्रियों और बुद्धि से नहीं जाना जा सकता, अगर भौतिक संसार की

पढ़िए

👉🏻 आध्यात्मिक

JivankiShuddhta

 🙏🏻हरे कृष्ण 

मैं मनमोहनदास, आपका स्वागत करता हूं, यहां आपको वैदिक-ज्ञान, पौराणिक कथाएं, आध्यात्मिक यात्रा के साथ और भी ज्ञानवर्धक लेख उपलब्ध होते हैं। हमारा प्रयास है की पाठकों को जीवन जीने का एक आनन्दमय मार्ग दिखाएं, आश्वासन हैं, यह मार्ग जीवन को अवश्य ही शुद्ध करेंगा।

Whatsapp Follow
Telegram Follow